ED
Share it

नई दिल्ली: पंजाब नेशनल बैंक धोखाधड़ी (PNB Scam) मामले में सारे दांव फेल हो जाने के बाद अब भगोड़े कारोबारियों की सांसे फूली हुई हैं. जेल जाने से बचने के लिए अब वे घोटाला करके निकाली गई रकम को धीरे-धीरे वापस करने लगे हैं. 

नीरव मोदी ने खुलवाया था बहन का खाता

PNB Scam में आरोपी और भगोड़े कारोबारी नीरव मोदी की बहन पूर्वी मोदी ने करीब 17.25 करोड़ रुपये भारत सरकार को भेजे हैं. प्रवर्तन निदेशालय (ED) के मुताबिक ये पैसे ब्रिटेन के एक बैंक खाते में पड़े थे.  ED ने कर्ज धोखाधड़ी मामले में मदद करने के बदले में उन्हें आपराधिक कार्यवाही से छूट देने की अनुमति दे दी थी. जिसके बाद पूर्वी ने ये पैसे भारत ट्रांसफर किए.

ED ने कहा कि पूर्वी मोदी ने 24 जून को प्रवर्तन निदेशालय से संपर्क किया था. पूर्वी ने विभाग को सूचित किया कि उन्हें लंदन में अपने नाम से चल रहे एक बैंक खाते का पता चला है. पूर्वी के दावे के अनुसार, यह बैंक खाता उनके भाई नीरव मोदी के कहने पर खोला गया था. पूर्वी ने यह भी कहा कि इस खाते में जमा धन उसका नहीं है.

ED ने दी आपराधिक कार्रवाई से छूट

पूर्वी मोदी ने कहा कि अगर उसे आपराधिक कार्रवाई से छूट दे दी जाती है तो वह इस धन को ED को ट्रांसफर कर सकती है. इसके बाद ED ने विचार-विमर्श कर पूर्वी मोदी को पूरा और सही खुलासा करने की शर्तों पर माफी की अनुमति दे दी. आपराधिक कार्रवाई से छूट मिलने के बाद पूर्वी मोदी ने ब्रिटेन के बैंक खाते से 23 लाख 16 हजार 889.03 अमेरिकी डॉलर की राशि भारत सरकार, प्रवर्तन निदेशालय के बैंक खाते में भेज दी है.

लंदन की जेल में बंद है नीरव मोदी

ED ने कहा कि भारतीय करंसी में यह रकम करीब 17.25 करोड़ रुपये बनती है. नीरव मोदी और उसका मामा मेहुल चोकसी मुंबई में पंजाब नेशनल बैंक की ब्रैडी शाखा से करीब दो अरब डॉलर कर्ज की धोखाधड़ी करके देश से भागे हुए हैं. मेहुल चोकसी इन दिनों डोमिनिका की जेल में बंद है. वहीं नीरव मोदी वर्तमान में ब्रिटेन की जेल में है. भारत प्रत्यर्पण किए जाने के खिलाफ दायर उसकी याचिका कोर्ट में खारिज हो चुकी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.