Crime News
Share it

नई द‍िल्‍ली. द‍िल्‍ली पुल‍िस ( Delhi Police) के शाहदरा जिले के मानसरोवर पार्क थाना पुलिस ने दिनदहाड़े हथियार के बल पर स‍िंह सर्वि‍स सेंटर (पेट्रोल पंप) ज्‍योत‍ि नगर के कैश‍ियर से हुई 7.7 लाख रुपए की लूट की गुत्थी को सुलझा ल‍िया है. इस मामले में पुल‍िस ने आरोपी को गिरफ्तार किया है.

पुलिस जांच पड़ताल में पता चला कि पकड़े गए आरोपी ने मंडोली जेल में बंद गोगी गैंग (Gogi Gang) के कुख्यात बदमाश दीपक भजनिया (Deepak Bajaniya) के इशारे पर अन्य साथियों के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया था.

पुल‍िस टीम की ओर से पकड़े गए आरोपी की पहचान ज्योति नगर निवासी अरुण शर्मा के रूप में की गई है. इस पर पहले से हत्या, डकैती, लूट सहित 14 अपराधिक मामले दर्ज हैं. पुलिस ने इसके पास से लूट के एक लाख रुपए भी बरामद कर ल‍िए हैं. पुलिस इससे पूछताछ कर लूटपाट करने वाले अन्य बदमाशों के बारे में पता लगाने का प्रयास कर रही है.

शाहदरा जिला पुलिस उपायुक्त आर सत्यसुंदरम ने बताया कि MS Park थानाध्यक्ष प्रशांत यादव के नेतृत्व में एसआई संजीव, हेड कांस्टेबल जसबीर सिंह की टीम गठ‍ित की गई थी. पीड़ित ने बदमाशों की बाइक का जो नंबर बताया था, वह फर्जी पाया गया. बदमाश जिस रास्ते से फरार हुए थे, पुलिस ने वहां लगे 30 से अधिक सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली. एक फुटेज में पुलिस ने देखा दोनों बदमाशों ने पहले एक व्यक्ति से बात की और फिर वारदात को अंजाम दिया. पुलिस ने उस व्यक्ति की पहचान अरुण के रूप में की.

पुलिस पूछताछ में पता चला कि आरोपियों ने पेट्रोल पंप (Petrol Pump) की अच्छे से रेकी के बाद इंटरनेट काल के जरिये दीपक से संपर्क किया. उसने उसे बताया कि रोजाना पेट्रोल पंप के कर्मचारी लाखों रुपए की नकदी बैंक में जमा करवाने के लिए जाते हैं.

अरुण के कहने पर दीपक ने अपने गिरोह के दो गुर्गों को हथियार लेकर नकदी लूटने के लिए भेजा. लूट वाले दिन दीपक फोन के जरिए अपने गुर्गों और अरुण के संपर्क में रहा, और उन्हें निर्देश देता रहा. लूट के बाद अरुण ने दीपक को फोन करके बताया कि लूट सफल रही है. इसके गुर्गों ने लूट की रकम से दो लाख उसे दिए.

पुलिस को पूछताछ में अरुण ने बताया कि पेट्रोल पंप (Petrol Pump) उसके घर के नजदीक है. कई दिन तक पेट्रोल पंप की रेकी करके उसने पता लगाया कि कर्मचारी किस वक्त कौन से बैंक में नकदी जमा करवाने जाते हैं, किस रास्ते से जाते हैं. रेकी के बाद उसने नकदी लूटने के लिए दीपक से मदद मांगी. छह सितंबर को ज्योति नगर स्थित इंडियन आयल के Singh Service centre, FC-8 Jyoti Colony Delhi, पेट्रोल पंप के मैनेजर मणिभूषण करण से पिस्टल के बल पर दो बाइक सवार बदमाशों ने रकम लूटी थी.