bicycles thief
Share it
नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के दक्षिण-पूर्व जिले के लाजपत नगर की टीम ने एक चोर मो. रुख्सार आलम को गिरफ्तार किया. उसकी गिरफ्तारी से उसके पास से एक चाकू, एक छीना गया मोबाइल फोन और चोरी की 12 साइकिलें (Bicycles) बरामद हुई हैं. इसकी गिरफ्तारी से पुलिस ने विभिन्न धाराओं में दर्ज स्नैचिंग और चोरी के 34 मामलों को सुलझाने का दावा किया है.दक्षिण पूर्व जिला, पुलिस उपायुक्त, आर.पी. मीणा के मुताबिक 22 जुलाई को, सिपाही राजेंद्र, सिपाही राजपाल और सिपाही अमित थाना लाजपत नगर के इलाके में गश्त कर रहे थे. लगभग 8:50 बजे गश्त के दौरान, वे सबवे, लाजपत नगर, दिल्ली के पास बीआरटी रोड पहुंचे, जहां सिपाही राजेंद्र ने देखा कि एक व्यक्ति डिफेंस कॉलोनी फ्लाईओवर की तरफ से आ रहा है.

पुलिस स्टाफ को देखते ही उक्त व्यक्ति ने तीखा यू टर्न ले लिया. शक होने पर स्टाफ ने उसे रुकने के लिए कहा लेकिन उसने भागने की कोशिश की. काफी मशक्कत के बाद कर्मचारियों ने उसे काबू कर लिया. सरसरी तलाशी लेने पर उसके पास से एक अवैध चाकू (बटन-दार) बरामद किया गया.

पूछताछ में उसकी पहचान मो. रुख्सार आलम (19) पुत्र मो. सुलेमान निवासी झुग्गी सिल्वर पार्क, गंदा नाला अंडर पास, जंगपुरा, दिल्ली के रूप में की गई है. थाना लाजपत नगर में प्राथमिकी संख्या 295/21 धारा  25/54/59 आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया था. आरोपी को गिरफ्तार कर बरामद चाकू को जब्त कर लिया गया है. मामले की आगे की जांच जारी है.

पुलिस उपायुक्त के मुताबिक आगे की जांच के लिए, एक समर्पित टीम जिसमें एसआई राजीव गौतम, प्रधान सिपाही दिलीप सिंह, सिपाही राजेंद्र, सिपाही राजपाल और सिपाही अमित का गठन किया गया था. टीम का नेतृत्व निरीक्षक धर्म देव, एसएचओ / लाजपत नगर और मनोज कुमार सिन्हा, एसीपी/लाजपत नगर ने किया.

डीसीपी ने बताया कि लगातार पूछताछ करने पर आरोपी मो. रुख्सार आलम ने खुलासा किया कि वह ग्राम-खोना, थाना-जोकिर, जिला- अररिया (बिहार) का स्थायी निवासी है और एक गरीब परिवार से है. वह अनपढ़ और अविवाहित है. वर्ष 2013 में, वह अपने माता-पिता के साथ दिल्ली आया और उपरोक्त पते पर रहने लगा. उसके बाद, उसके माता-पिता अपने मूल स्थान पर वापस आ गए और वह अपनी बड़ी बहन के साथ रहने लगा. वह आस-पास के नशेड़ियों के संपर्क में आया और नशीली दवाओं,गांजा, शराब आदि का सेवन करने लगा.

अपनी आवश्यकता को पूरा करने के लिए, उसने पास के क्षेत्र से साइकिल और मोबाइल फोन चोरी करना शुरू कर दिया जिन्हें वह अज्ञात राहगीरों को बेच देता था. उसने अपराध करने के दौरान लोगों को धमकाने के लिए चाकू अपने पास रखा था. 22 जुलाई को जब वह लाजपत नगर की ओर वारदात को अंजाम देने जा रहा था तो उसे पकड़ लिया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.