muzaffarpur bank loot
Share it

मुजफ्फरपुर. बिहार में पुलिस ने समय रहते बैंक लूट की बड़ी घटना को टाल दिया है. मामला मुजफ्फरपुर से जुड़ा है जहां बैंक लूट (Muzaffarpur Bank Loot) की नीयत से आए अपराधियों पर पुलिस ने समय रहते जवाबी कार्रवाई की. इस दौरान दोनों तरफ से हुई मुठभेड़ (Police Encounter) और गोलीबारी में एक बैंक लुटेरा मारा गया जबकि उसके तीन साथी जख्मी हो गए हैं और उनको गिरफ्तार कर लिया गयाा है. घटना मुजफ्फरपुर जिले के मोतीपुर थाने के पचरुखी गांव की है.

जानकारी के मुताबिक सोमवार की शाम करीब 4 बजे लुटेरे हथियार के साथ बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखा में कैश लूटने की नियत से पहुंचे थे लेकिन पहले से मुस्तैद पुलिस ने ना केवल उनके मंसूबों पर पानी फेरा बल्कि इस दौरान हुए एनकाउंटर में एक लुटेरा को मार भी गिराया. स्थानीय लोगों के मुताबिक बैंक के अंदर और बाहर पुलिस और अपराधियों के बीच एक दर्जन से अधिक राउंड गोलियां चली जिसमें एक लुटेरे को तीन गोली लगी और वह वहीं ढेर हो गया. एनकाउंटर की इस घटना में तीन लुटेरे समेत पांच लोगों के भी जख्मी होने की खबर है जिसमें से तीन जख्मी लुटेरों को इलाज एसकेएमसीएच में चल रहा है.

लूट की प्लानिंग कितनी जबर्दस्त थी इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पुलिस ने मौके से छह पिस्टल, कई मोबाइल फोन सहित अन्य सामान बरामद किया है. मामले की जानकारी मिलते ही एसएसपी जयंत कांत के नेतृत्व में पुलिस टीम घटनास्थल पर पहुंची है. एसएसपी ने इस मामले की जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस को पहले से ही यह सूचना मिली थी कि अपराधी बैंक लूटने का प्रयास करने वाले हैं. इसको लेकर एक टीम बैंक समेत आसपास के इलाके में तैनात की गई थी. डीएसपी पूर्वी मनोज पांडे के नेतृत्व में टीम ने मुठभेड़ के दौरान एक लुटेरे को मार गिराया.

पुलिस टीम पर जैसे ही लुटेरों की नजर पड़ी फायरिंग होने लगी. इस दौरान पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की. पुलिस के मुताबिक एनकाउंटर की इस कार्रवाई में तीन अन्य लुटेरों को गोली लगी है जबकि कुछ भीड़ का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे हैं. घायल लुटेरों में रुदल सिंह, प्रशांत कुमार और वंशम शामिल हैं जबकि मृतक की पहचान अभी नहीं हो सकी है. पुलिस गिरफ्तार किए गए लुटेरों से कड़ी पूछताछ कर रही है.